ब्रेकिंग न्यूज: 1971 में इंदिरा के नोटबंदी की सलाह को नजरअंदाज करने से देश को नुकसान हुआ: मोदी NEW    43 एयरपोर्ट्स पर लगेंगे बायोमेट्रिक सिस्टम, थम्ब इम्प्रेशन बन सकता है आपका टिकट NEW    LIVE: जयललिता को पड़ा दिल का दौरा, फिर CCU में भर्ती, अपोलो के बाहर जुटे समर्थक NEW    सपा के 25 साल: लालू ने थमाई तलवार, अखिलेश ने छुए चाचा के पैर; शिवपाल बोले- CM नहीं बनूंगा, मांगोगे तो खून भी दे दूंगा NEW    J&K के शोपियां में घर में छिपे हैं 4-5 आतंकी: एनकाउंटर में 1 मारा गया, जवान जख्मी NEW    PHOTOS: पाकिस्तान में मंदिर से लेकर सड़कों तक ऐसे मनाई जाती है दिवाली NEW    CM से अब भी नाराज हैं शिवपाल? मीटिंग में बोले- मैं अपना अपमान बर्दाश्त कर सकता हूं, लेकिन नेताजी का नहीं NEW    BJP को रोकने के लिए UP में महागठबंधनः सपा के रजत जयंती समारोह में सबको एक मंच पर ला सकते हैं मुलायम, नीतीश ने बनाई दूरी NEW    धनतेरस आज: मुकेश अंबानी अगर नींद में भी हों तो कमा लेते हैं 4 करोड़, कपिल शर्मा ने हंसाकर कमाए 60 करोड़ NEW    विराट कोहली ने कहा- जहां भी कोई सैनिक दिखे उसे सलामी दें NEW   
Administrator News8/13/2016 2:37:00 AM4 Comments
img

मोदी से मिले चीन के मंत्रीः NSG पर कहा- दोनों देश एक-दूसरे से असहमति का कारण खोजें

मोदी से मिले चीन के मंत्रीः NSG पर कहा- दोनों देश एक-दूसरे से असहमति का कारण खोजें

नई दिल्ली. चीन के फॉरेन मिनिस्टर वांग यी 3 दिन के भारत दौरे पर आए हैं। शनिवार को यी ने नरेंद्र मोदी से प्रधानमंत्री निवास पर मुलाकात की। इसमें न्यूक्लियर सप्लायर्स ग्रुप (एनएसजी) मेंबरशिप के मुद्दे को लेकर भी चर्चा हुई। चीन का कहना है, दोनों देशों को एक-दूसरे से असहमति का कारण खोजना चाहिए।बता दें कि चीन लगातार भारत की एनएसजी मेंबरशिप को लेकर विरोध कर रहा है। चीनी सरकारी मीडिया ने क्या कहा... - शुक्रवार को चीनी सरकारी मीडिया शिन्हुआ ने भी कहा कि भारत को एनएसजी की मेंबरशिप न मिल पाने की पीछे चीन को जिम्मेदार बताना बंद करना चाहिए। - चीनी स्टेट मीडिया ने ये भी कहा, नई दिल्ली को मेंबरशिप के मुद्दे पर निराश नहीं होना चाहिए। एनएसजी के दरवाजे अभी पूरी तरह से बंद नहीं हुए हैं। - हालांकि ये भी कहा कि एनएसजी में ऐसे किसी देश को एंट्री नहीं मिलनी चाहिए, जिसने नॉन-प्रोलिफिरेशन ट्रीटी (परमाणु अप्रसार संधि- NPT ) पर साइन किए हों। - 23-24 जून को सिओल में एनएसजी प्लेनरी की मीटिंग में भारत को मेंबरशिप नहीं मिल पाई थी। साउथ चाइना को लेकर भी चीन की वॉर्निंग - 9 अगस्त को भी चीनी स्टेट मीडिया ने साउथ चाइना सी को लेकर भारत को वॉर्निंग दी थी। - शिन्हुआ ने कहा था, साउथ चाइना सी चीन के राष्ट्रीय हित का मुद्दा है। हमें उम्मीद है कि भारत इसमें दखलंदाजी नहीं करेगा। - बता दें कि हाल ही में कोर्ट ऑफ आर्बिट्रेशन ने साउथ चाइना सी पर चीन के खिलाफ फैसला सुनाया था। फिलीपींस ने इसको लेकर अपील की थी। चीन ने फैसले को मानने से इनकार कर दिया था। एनएसजी मेंबरशिप को लेकर चीन क्यों कर रहा विरोध? - चीन का कहना है कि एनएसजी में मेंबरशिप लेने से पहले भारत को एनपीटी पर साइन करने चाहिए। - मेंबरशिप के मुद्दे पर मनाने के लिए भारत के फॉरेन सेक्रेटरी एस. जयशंकर भी चीन गए थे। - जून में शंघाई कोऑपरेशन ऑर्गनाइजेशन (SCO) की बैठक के दौरान मोदी-जिनपिंग की भी इस मुद्दे पर बात हुई थी लेकिन किसी नतीजे पर नहीं पहुंची। - मेंबरशिप न मिल पाने के बाद भारत ने चीन का नाम लिए बिना कहा था, एक देश के विरोध के चलते हमें एनएसजी में एंट्री नहीं मिल पाई।

Add News Comment Messages

Show Current News Comment Details

Related News Blow

राष्ट्रीय

राजनेता

Advertisement