ब्रेकिंग न्यूज: 1971 में इंदिरा के नोटबंदी की सलाह को नजरअंदाज करने से देश को नुकसान हुआ: मोदी NEW    43 एयरपोर्ट्स पर लगेंगे बायोमेट्रिक सिस्टम, थम्ब इम्प्रेशन बन सकता है आपका टिकट NEW    LIVE: जयललिता को पड़ा दिल का दौरा, फिर CCU में भर्ती, अपोलो के बाहर जुटे समर्थक NEW    सपा के 25 साल: लालू ने थमाई तलवार, अखिलेश ने छुए चाचा के पैर; शिवपाल बोले- CM नहीं बनूंगा, मांगोगे तो खून भी दे दूंगा NEW    J&K के शोपियां में घर में छिपे हैं 4-5 आतंकी: एनकाउंटर में 1 मारा गया, जवान जख्मी NEW    PHOTOS: पाकिस्तान में मंदिर से लेकर सड़कों तक ऐसे मनाई जाती है दिवाली NEW    CM से अब भी नाराज हैं शिवपाल? मीटिंग में बोले- मैं अपना अपमान बर्दाश्त कर सकता हूं, लेकिन नेताजी का नहीं NEW    BJP को रोकने के लिए UP में महागठबंधनः सपा के रजत जयंती समारोह में सबको एक मंच पर ला सकते हैं मुलायम, नीतीश ने बनाई दूरी NEW    धनतेरस आज: मुकेश अंबानी अगर नींद में भी हों तो कमा लेते हैं 4 करोड़, कपिल शर्मा ने हंसाकर कमाए 60 करोड़ NEW    विराट कोहली ने कहा- जहां भी कोई सैनिक दिखे उसे सलामी दें NEW   
Administrator News9/2/2016 12:07:00 AMNo Comments
img

सचिन से तुलना करना छोड़ दें क्योंकि कोहली वाकई हैं विराट

सचिन से तुलना करना छोड़ दें क्योंकि कोहली वाकई हैं विराट

क्या टीम इंडिया के वर्तमान कप्तान विराट कोहली वनडे और टेस्ट में सर्वाधिक रन और शतकों के सचिन तेंदुलकर के रिकॉर्ड को ध्वस्त कर देंगे? ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज क्रिकेटर ग्लेन मैग्रा ने एक बार फिर इस बहस को हवा दे दी है. उन्होंने इन दोनों भारतीय बल्लेबाजों के वजन को मापा और अटकलों को विराम देने की मांग करते हुए कहा कि मौजूदा भारतीय टेस्ट कप्तान विराट कोहली क्रिकेट के मैदान पर मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के किए कारनामों की बराबरी कर सकते हैं. सचिन से तुलना करना खुद विराट को नहीं भाता क्योंकि वो उन्हें बहुत सम्मान देते हैं. विराट ने तो यहां तक कहा कि सचिन से तुलना करने पर उन्हें शर्मिंदगी महसूस होती है. लेकिन विराट आप जिस तरह से बैटिंग कर रहे हैं यह तुलना तो कमोबेश चलती ही रहेगी. हमने विराट कोहली के वर्तमान रिकॉर्ड और सचिन तेंदुलकर के तब के रिकॉर्ड्स को देखा और जो नतीजे पाए वो चौंका देने वाले हैं. मजेदार तो यह है कि विराट कोहली के रन बनाने की गति उस ट्रैक पर है जिससे वो मास्टर ब्लास्टर से भी कहीं अधिक तेजी से उनके टेस्ट और वनडे रिकॉर्ड्स को ध्वस्त कर देंगे. यहां एक बात गौरतलब है कि सचिन ने केवल एक टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेला है जबकि 135.57 के स्ट्राइक रेट से 45 मैचों में 1,658 रन बना चुके विराट इस फॉर्मेट के बेताज बादशाह हैं . टी20 में विराट के 57.17 रनों की औसत एक हजार से अधिक रन बना चुके वर्तमान के किसी भी क्रिकेटर से कहीं अधिक है. वनडे में सचिन पर विराट हैं भारी सफेद गेंद विराट को ज्यादा भाती है. यह हम नहीं वनडे क्रिकेट में विराट के आंकड़े बोल रहे हैं. 171 मैच खेल चुके विराट का औसत यहां 51.51 का है. अब तक वो 25 पारियों के दौरान तिहरे अंक में भी पहुंच चुके हैं. इस दौरान उन्होंने 7,212 रन बनाए हैं. अब इस मुकाम पर अगर सचिन तेंदुलकर के आंकड़े देखे जाएं तो वो विराट से कोसो पीछे हैं. इतने ही वनडे खेलने तक सचिन तेंदुलकर ने विराट की तुलना में आधे से भी कम यानी केवल 12 शतक और 38.85 की औसत से महज 5,828 रन बनाए थे. हालांकि इसके बाद सचिन तेंदुलकर ने 292 वनडे और खेलते हुए अपने वनडे मैचों की संख्या 463 पर पहुंचा दी और रिटायर होने तक 44.83 की औसत से कुल 18,426 रन बनाए. सचिन ने अपने वनडे करियर के दौरान कुल 49 शतक लगाए. अगर विराट इसी रफ्तार से खेलते रहे तो निश्चित ही सचिन तेंदुलकर के रिकॉर्ड को उनके जितने मैच खेलने से कहीं पहले तोड़ देंगे. कम से कम 63 वनडे सेंचुरी मारेंगे विराट अब सवाल यह उठता है कि विराट जिस गति से रन बना रहे हैं उससे वो अपने करियर के दौरान कितना शतक जड़ सकते हैं? हम सामान्य गुणा भाग करने से इस नतीजे पर पहुंचे हैं कि विराट कोहली अगर सचिन के बराबर भी वनडे मैच खेलते हैं तो 63 शतकों के साथ 19,527 रन का पहाड़ खड़ा करेंगे. अब अगर सचिन की ही तरह यहां से उनके बल्ले से और अधिक रन बरसने लगे तो यह रिकॉर्ड किस ऊंचाई पर पहुंचेगा यह कहना मुश्किल है. टेस्ट में सचिन से बेटर हैं विराट क्रिकेट के लंबे फॉर्मेट में सचिन तेंदुलकर ने 51 शतक लगाए लेकिन इसके लिए उन्होंने 200 टेस्ट भी खेले. अगर विराट कोहली के वर्तमान रिकॉर्ड को देखें तो वो इस मुकाम पर सचिन से आगे निकल गए हैं. अभी तक विराट ने 45 टेस्ट मैचों में 3,245 रन बनाए हैं. उनका औसत 45.06 का है और वो 12 टेस्ट शतक भी ठोंक चुके हैं. जबकि इतने ही टेस्ट खेलने तक सचिन ने विराट से दो शतक कम यानी 10 सेंचुरी के साथ 3,087 रन बनाए थे. बेशक सचिन 50.60 रनों की औसत के साथ विराट से कहीं आगे थे. इसमें कोई शक नहीं है कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 100 शतकों के साथ सचिन क्रिकेट के ऑल टाइम ग्रेट प्लेयर्स में से एक हैं लेकिन क्रिकेट के मैदान पर बड़े से बड़ा रिकॉर्ड ध्वस्त होते हम देखते ही रहते हैं और जिस आत्मविश्वास और ठाठ के साथ विराट क्रिकेट की पिच पर बड़े से बड़े गेंदबाजों को बौना साबित कर रहे हैं उसे और लिटिल जीनियस से किए गए उनके उपरोक्त तुलनात्मक अध्ययन को देखते हुए यह कहना मुश्किल नहीं है कि वो अपने मास्टर से दो कदम आगे निकल जाएंगे. फिलहाल वक्त है विराट की शानदार बल्लेबाजी और टीम इंडिया की कप्तानी करते हुए उनके अद्भुत निर्णयों को देखने और उसका लुत्फ उठाने का.

Add News Comment Messages

Show Current News Comment Details

  • No Comments Records..

Related News Blow

राष्ट्रीय

Advertisement